ज्योतिरादित्य नें राहुल से चुपके से कहा मीडिया से ये बोलो, देखें पूरा वाकया

नई दिल्ली: देर से ही क्यों नहीं सही लेकिन अब कांग्रेस के राहुल गाँधी का सार्वजनिक स्थलों पर बोलने के कौशल में उल्लेखनीय बदलाव आया है. इन दिनों सार्वजनिक सभाओं और रैलियों को संबोधित करते समय कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी अधिक उत्साही और आत्मविश्वासी प्रतीत हो रहे हैं. दरअसल, तीन राज्यों में उनकी पार्टी की हालिया जीत से उत्साहित, राहुल गांधी ने मंगलवार को संसद के बाहर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की. इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को किसान ऋण छोड़ने के लिए चुनौती दी. उन्होंने कहा कि यदि भाजपा किसानों के कर्जे को लेकर कोई कदम नहीं उठती तो वह उन्हें चैन से सोने नहीं देंगे.

हालांकि, गांधी के इस प्रेस कॉन्फ्रेंस का एक कथित वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो गया है. इस विडियो में एक बार फिर से राहुल गाँधी चर्चा में आ गए हैं. विडियो में राहुल गाँधी प्रेस कांफ्रेस में अपने भरोसेमंद सहयोगियों, पार्टी के नेताओं गुलाम नबी आजाद, अहमद पटेल और ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ विचार परामर्श करते दिखाई दे रहे हैं. वीडियो के मुताबिककुछ दिनों पहले ही मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री की सीट के लिए चुनाव दौड़ में शामिल सिंधिया को यह कहते स्पष्ट सुना जा सकता है कि, राहुल गाँधी को मीडिया के सामने क्या क्या कहना है.

विडियो में कांग्रेस अध्यक्ष सिंधिया को यह कहते साफ़ सुना जा सकता है कि वह राहुल को मीडिया के सामने बोलने के लिए कह रहे हैं कि, “आपको यह कहना होगा कि मोदी क्या कर सकता था, और मैंने नहीं किया।”बता दें कि इस कांफ्रेस में सिंधिया संभवतः नव निर्वाचित छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश सरकार द्वारा दिए गए कृषि ऋण छूट में संकेत दे रहे थे. विडियो को देखने के बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने एक ट्वीट में राहुल गाँधी की चुटकी लेते हुए कहा कि, “आज कल आपको सपने देखने के लिए भी ट्यूशन लेने की आवश्यकता है”

इस बीच, कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने ईरानी के विनोद की सराहना नहीं की और प्रधान मंत्री मोदी को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित करने के लिए चुनौती देकर झटका दिया. ईरानी को “ट्रोल” के रूप में संदर्भित करते हुए चतुर्वेदी ने अपने ट्वीट में कहा, “डियर ट्रोल,सपनें दिखाने के बाद उन्हें जुमले बता देना और झूठ परोसने की ट्यूशन तो पक्का भाजपा कार्यालय में मिलती है!चलो मैडम, ट्यूशन ले कर ही सही, प्रधानमंत्री मोदी से कहो एक प्रेस वार्ता खुद भी तो करें, बहुत जवाब देने हैं, देश इंतजार कर रहा है,मंज़ूर है?

By: Staff on Wednesday, December 19th, 2018