PDP विधायक एजाज़ ने कश्मीर में आतंकियों को लेकर दिया आपत्तिजनक बयान!

जब बात ऊट-पटांग बयानबाजी की होती है, तो जम्मू कश्मीर के नेताओं का शायद ही कोई मुकाबला कर सके| चाहे वो फिर अपने देश के बारे में बात कर रहे हों या फिर आतंकवाद पर, ये नेता हमें चौंकाने में जरा भी कसर नहीं छोड़ते!

पिछले दिनों आपने फारूख अब्दुल्ला के सठियाये हुए ब्यान तो सुने ही होंगे, जिनमे उन्होंने एक मामले में पाकिस्तान को सीधे सीधे क्लीन चिट देते हुए सारा दोष प्रधानमन्त्री मोदी के सर मढ़ दिया था| और उसके बाद हाल ही में उमर अब्दुल्ला ने भी ऐसा ही एक उलूल जुलूल ब्यान देकर थोड़ी बहुत सुर्खियाँ बटोर ली थी|

अबकी बार स्ट्राइक पर हैं Jammu and Kashmir Peoples Democratic Party के विधायक एजाज़ अहमद! 

और अब उन्होंने राग छेड़ दिया है हाल ही में भारतीय सेना द्वारा कश्मीर में मारे गये आतंकवादियों को लेकर| लेकिन वे उनके खिलाफ बोलने के बजाये उन्हें अपने सगे साबित करने पर तुले हैं!

मीडिया से बात करते हुए एजाज़ ने कहा –

”हमें आतंकियों की हत्याओं का जश्न नहीं मनाना चाहिए, यह हमारी सामूहिक विफलता है. सुरक्षा बलों के शहीद होने पर भी हम दुखी होते हैं. हमें सुरक्षा बलों के माता-पिता के साथ ही आतंकवादियों के अभिभावकों के प्रति सहानुभूति रखनी चाहिए.”

उनकी माने तो वहां मारे गये आतंकी उनके भाई हैं और मरे नहीं बल्कि शहीद हुए हैं| वे अभी नाबालिग हैं और ये भी नहीं जानते कि वे क्या कर रहे हैं!

आपको बता दें कि सेना ने जम्मू कश्मीर में आतंकवाद के खिलाफ बड़े जोर शोर से अभियान चला रखा है| इसके अंतर्गत उसने पिछले कुछ समय में ही भरी संख्या में आतंकियों को मार गिराया है| साल 2017 इस लिहाज़ से सेना के लिए अच्छी खासी सफलता भरा रहा है|

लेकिन इसके साथ ही इस संवेदनशील राज्य में आम नागरिकों को लेकर भारी संकट भी पैदा हो गया है| पिछले वर्ष हुई आतंकी घटनाओं में निर्दोषों के मारे जाने की संख्या में भी भारी वृद्धि हुई है| आतंकियों से मुठभेड़ में 2017 में 77 सुरक्षाकर्मी शहीद हुए थे|

Source: Zee News and ANI 

By: Sharma on Thursday, January 11th, 2018