पाकिस्तान LOC पर घुसपैठ और फायरिंग की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है, और इसके पीछे की वजह बेहद दिलचस्प है!

पाकिस्तान ने हमेशा से ही भारत के साथ सीमा पर दुश्मनी मोल ली है, ये जानते हुए भी कि हम उस से कहीं ज्यादा ताकतवर हैं| और उसके ऐसा करने के पीछे बस एक वजह है – भारत की तरक्की से जलभूनकर उसे उकसाने की कोशिश करते रहना!

लेकिन अब हमने भी कड़ा रुख अख्तियार करते हुए उसे सर्जिकल स्ट्राइक जैसे मुहतोड़ जवाब देना शुरू कर दिया है| और तब से ग़ज़ब का असर दिखा है, और अब उसमे वो पहले जैसी लोहा लेने की हिम्मत भी नहीं रही|

लेकिन अब पाकिस्तान की बोलती बिलकुल ही बंद होने जा रही है – पिछले 2 महीनों से वो सीमा पार से आर्टिलरी फायरिंग करने से गुरेज कर रहा है| और वजह है भारत द्वारा हाल ही में weapon-locating राडार का परिक्षण करना| 

रक्षा सूत्रों के मुताबिक़ –

“रडार दो महीने से सीमा पर परिक्षण के लिए तैनात हैं| अब उस पार से आर्टिलरी फायरिंग में गिरावट आई है|”

‘स्वाति’ के आने से कैसे बढ़ेगी हमारी ताकत? 

आपको बता दें कि इस हथियारों को ढूंढ निकालने वाली रडार का नाम “स्वाति” है, जिसे DRDO द्ववारा विकसित किया गया है| और अब परिक्षण के बाद इसे जैसे ही हमारी फ़ौज को सौंप दिया जाएगा, हमारी ताकत कई गुना बढ़ जाएगी| और ये संभव हो पाया है मोदी सरकार द्वारा रक्षा के क्षेत्र में बजट को बढाए जाने के बाद!

ये एक बहुत ही कम्माल का हथियार है जिसकी बदौलत अब हमारी सेना दुश्मन की अत्रिलारी फायरिंग वाली जगहों का सही सही अंदाजा लगाकर उन्हें नष्ट कर सकेगी| और आप समझ सकते हैं कि पाकिस्तान के लिए ये कितना बड़ा झटका है| और वैसे भी अब उसे इसका तोड़ ढूँढने में सदियाँ लगने जा रही हैं|

एक तो पाकिस्तान खुद रक्षा क्षेत्र में इतना विकसित नहीं है, और ऊपर से अमेरिका से मिलने वाली आर्थिक सहायता भी अब बंद की जा चुकी है| 




By: Sharma on Tuesday, January 9th, 2018

get I Suppport Namo app here