पत्रकार ने ऐसा क्या सवाल पूछा लिया की भड़क कर भागने लगे नरेश अग्रवाल

कहते हैं एक बार आपका विवादों से नाता हो जाए, तो फिर आसानी से पीछा नहीं छूटता| और खासकर ऐसा होता है जब आप गलती पर माफ़ी मांगने से गुरेज करते हैं और अपनी कही हर बात को सही मानते हैं| अब ऐसा ही कुछ हो रहा है नरेश अग्रवाल के साथ| जनाब अक्सर ऊट-पटांग बात बोल देते हैं और निकल जाते हैं|

लेकिन, इस बार मीडिया ने ठान रखी है कि उनका पीछा इतना आसानी से नहीं छोड़ना है| और फिर है भी सही, क्योंकि इस विडियो में आप देखेंगे कि उन्हें मालूम तो है कि उन्होंने गलती की है, लेकिन फिर अक्कड़ इतनी है कि माफ़ी नहीं मांगनी है| और जब माफ़ी मांगते भी हैं, तो औपचारिकता मात्र के लिए| क्योंकि अब इन्हें साफ शब्दों में अपन एकिये और कहे को भंग करना गवारा नहीं है!

जब पत्रकारों ने पूछा माफ़ी पर सवाल, तो गुस्सा दिखाया! 

पत्रकारों ने जब नरेश अग्रवाल से पूछा कि क्या आपको अपने कहे पर पछतावा है और क्या आप माफ़ी मांगने को तैयार हैं, तो वे पत्रकारों पर ही गुस्सा हो गये| रस्सी जल जाए पर बट न जाए वाली बात है| फिर उल्टा पत्रकार को पूछता हैं कि खेद जताने से आप क्या समझते हैं|

और फिर जब किसी पत्रकार ने अगला सवाल किया, तो तीखे तेवर दिखाते हुए वे बातचीत अधूरी छोड़कर निकल लिए| मतलब पहले गलती करो, फिर सामान्य तहजीब भी भूल जाओ|

आपको बता दें कि नरेश ने जया बच्चन को लेकर अपशब्द कहे थे| उन्होंने अपनी पुरानी भड़ास निकालते हुए कहा था कि समाजवादी पार्टी ने उन्हें फिल्मों में काम करने और नाचने गाने वालों के लिए दरकिनार कर दिया था और ये उन्हें नागवार गुजरा|

फिर ऐसा बोलते हुए वो भाजपा में आये, लेकिन फिर उनके स्वागत के साथ साथ सुषमा स्वराज ने उन्हें तमीज जरूर सिखा दी थी| सुषमा ने तीखे शब्दों में उनकी आलोचना की थी कि नरेश का जया जी के बारे में ऐसा कहना बर्दाश्त नहीं किया जा सकता| अखिलेश यादव ने तो महिल आयोग से उनपर कार्रवाई करने तक की बात कही थी|

By: Sharma on Tuesday, March 13th, 2018