देश के भगौड़ों पर मोदी सरकार की पहल, माल्या समेत 58 लोगों को वापिस भारत लाने की तैयारी

भारत देश में नोटबंदी और जीएसटी जैसे बड़े फैसले लेने के बाद अब मोदी सरकार एक और पहल करने जा रही है. दरअसल, करोड़ों रुपए लेकर देश से भागने वाले विजय माल्या और अन्य लोगों को अब मोदी सरकार वापिस देश में लाने की ठान चुकी है. फिलहाल भगौड़ों की इस लिस्ट में 58 लोगों का नाम रखा गया है जो देश को चूना लगा कर विदेशों में बस चुके हैं.

इस बार में बुधवार को संसद में जानकारी देते हुए मोदी सरकार ने कहा कि विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी, नितिन-चेतन संदेसरा, ललित मोदी जैसे 58 लोगों को हम देश में वापिस लाने की तैयारी कर रहे हैं और इसके लिए हम कईं लोगों के खिलाफ तुरंत एक्शन के रूप में रेड नोटिस ज़ारी कर चुके हैं. ऐसे में वह दिन अब दूर नहीं, जब यह भगौड़े वापिस से देश के कानून के हवाले किए जाएंगे.

लोकसभा में मोदी सरकार ने इस विषय में आगे बोलते हुए कहा कि देश के साथ गद्दारी करने वाले इनमे से अधिकतर लोग यूएई, यूके, बेल्जियम और अमेरिका जैसे विकसित देशों में जा कर बस चुके हैं. वहीँ सरकार ने अक्टूबर में वीवीआईपी हेलीकाप्टर खरीदने के मामले में दो बिचौलिए के प्रत्यर्पण की मांग की है. सरकार के अनुसार इन सभी लोगों के लिए मोदी सरकार ने भगौड़ों का नया कानून बनाने का निर्णय लिया है. जिसके चलते इन पर सख्त से सख्त एक्शन लिया जाएगा.

बता दें कि इससे पहले भी राहुल गाँधी ने विधानसभा चुनाव के दौरान नीरव मोदी, ललित मोदी और विजय माल्या से जुड़े मामलों की और इशारा किया था और केंद्र सरकार को घेरा था.

News Source

By: Staff on Thursday, December 20th, 2018