भारत और रूस ने लिया बड़ा फ़ैसला, अब पाकिस्तान और चीन देश की उड़ेगी नींद

नई दिल्ली: राफेल डील के मुद्दे की गर्माहट के बाद अब भारतीय सरकार ने एक बार फिर से रूस के साथ हाथ मिला लिया है. इस बार भारत रूस से एस-400 ट्रिम्फ़ एयर डिफेंस सिस्टम खरीदने जा रहा है. आपको बता दें कि यह मिसाइल सबसे लंबी दूरी तय करने वाला पहला मिसाइल साबित होगा. इसी डील को लेकर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन अगले हफ्ते भारत दौरे पर आ रहे हैं. ख़बरों की आने तो वह भारत आकर इस डील का ऐलान कर देंगे जिसके बाद अमेरिका समेत पक्सितान और चीन जैसे देशों की नींद उड़ जाएगी.

हाल ही में क्रेमलिन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस मामले का ब्योरा देते हुए बताया कि पुतिन 4 अक्टूबर को भारत जाने वाले हैं और इस भारतीय दौरे के पीछे एस-400 मिसाइल है जोकि सतह से हवा तक सबसे लंबी दूरी कुछ ही मिनटों में तय कर सकती है. आपको बता दें कि रूस के साथ इस मिसाइल की डील के कारण अमेरिका के साथ भारत का विवाद भी बढ़ता देखने को मिल रहा है. इस मामले को लेकर कुछ समय पहले ही ‘टू- प्लस- टू’ बैठक की गई थी जिसमे अमेरिका ने रूस के साथ इस रक्षा डील को लेकर आपत्ति जताई थी.

यह बैठक 6 नवंबर में की गयी थी जिसमे अमेरिका के विदेशी मंत्री माइक पॉम्पियो और रक्षा मंत्री जिम मैटिस शामिल थी. इस बैठक की पैरवी के लिए भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पहुंचे थे. रूस के साथ इस मिसाइल की डील के बाद भारत पर अमेरिका के प्रतिबंध का खतरा मंडरा रहा है. वहीँ भारत इस मिसाइल को खरीदने की चरम सीमा तक पहुँच चुका है ऐसे अमेरिका को मिर्ची लगना तय है.

News Source

By: Kirti Kalra on Wednesday, October 3rd, 2018