विपक्ष को एक करने में लगीं सोनिया को ममता ने दे दिया बड़ा झटका, कांग्रेस ने मार ली अपने ही पैर पर कुल्हाड़ी !

देश के  प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव लेकर आने वाली कांग्रेस पार्टी की अब चारों ओर किरकिरी हो रही है. कांग्रेस पार्टी ने अन्य विपक्षी दलों के साथ महाभियोग का प्रस्ताव राज्यसभा के सभापति और उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू के सामने रखा. इस प्रस्ताव को वेंकैया नायडू जी ने खारिज कर दिया. अब कांग्रेस पार्टी के महाभियोग पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का बयान सामने आया है.

न्यूज़ 18 से बात करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि:

मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग नोटिस देना का कांग्रेस का फैसला गलत था. कांग्रेस ने महाभियोग प्रस्ताव पर उनसे समर्थन मांगा था, लेकिन हमनें ऐसा नहीं किया. मैंने सोनिया और राहुल गांधी से महाभियोग नोटिस देने से मना भी किया था.

ममता बनर्जी के बयान से साफ़ है कि कांग्रेस पार्टी दिखावे के लिए और मीडिया में बने रहने के लिए महाभियोग का नाटक कर रही है. वो मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए किसी भी हद तक नीचे गिर सकती है.

ममता बनर्जी ने कहा, कांग्रेस का चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग का नोटिस देना गलत था. हमारी पार्टी न्यायपालिका में कोई दखलंदाजी नहीं चाहती. आपको बता दें कि कांग्रेस के नेतृत्व में 7  विपक्षी दलों के 64 सांसदों ने मुख्य न्यायाधीश पर महाभियोग चलाने के लिए उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू जी के पास नोटिस भेजा था. सभापति एम. वेंकैया नायडू ने पर्याप्त आधार न होने की बात कहकर सोमवार को नामंजूर कर दिया.

जिस तरह से कांग्रेस पार्टी की महाभियोग मामले पर मीडिया में किरकिरी हो रही है उतना तो खुद कांग्रेस ने भी नहीं सोचा होगा. शायद कांग्रेस पार्टी बस मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए इतना नाटक कर रही थी. साथ ही जनता के बीच ख़बरों के मध्यम से बने रहने की नीति भी हो सकती है.

Source: The Insist Post

By: Shah on Wednesday, April 25th, 2018