“जेल में बहुत ठंड लगती है सर” बोलने पर जज ने लालू को दिया ऐसा जवाब कि… 

भारत और बिहार की राजनीति में लालू प्रसाद यादव जिस बात के लिए सबसे ज्यादा मशहूर हैं, वो है मजाक और व्यंग्य की अद्भुत कला| ये नेता किसी वक़्त उतना ही हाजिरजवाब भी हुआ करता था| और ताज्जुब की बात है कि आज जब चारा घोटाले में उन्हें सज़ा होना लगभग तय ही है, लालू अभी भी अदालत में मजाकिया मूड में देखे जा रहे हैं!

‘‘हमने कुछ नहीं किया जज साहब, जेल में बहुत ठंड लगती है.’’

CBI अदालत में जब लालू ने जज से ये लाइन बोली, तो वहां का माहौल तनावपूर्ण होने के बजाये हल्का फुल्का हो गया| और फिर जज साहब ने भी नहले पर देहला मारा और इस बार तो अदालत ठहाकों से गूज ही पड़ी!

लालू के मजाक का जवाब जज ने “तबला बजाईये” कहकर दिया और वो भी व्यंग्य के लहजे में| इस पर लालू ने फिर से मजाकिया लहजे में कहा,‘‘जेल में एक किन्नर भी बन्द है, गलती से आ गया है|’’  इस पर फिर से जज ने कहा,‘‘आप हैं तो सब ठीक हो जायेगा.’’

ऐसा कुछ नजारा था गुरूवार को रांची स्थित सीबीआई की विशेष अदालत का, जहाँ लालू चारा घोतालने में अपनी किस्मत का फैसला सुनने पहुंचे थे| लालू ने शिकायत की कि जेल में उनके जानने वालों को उनसे मिलने नहीं दिया जा रहा| इस पर जज ने भी हँसते हुए कहा कि इसीलिए तो हम आपको अदालत बुलाते हैं ताकि आप सबसे मिल सकें|

जज के ऐसा कहते ही वहां मौजूद सभी लोग खिलखिलाकर हंस पड़े| अदालत ने सभी अभियुक्तों की तरफ से बहस सुनी| फिर विशेष CBI न्यायधीश शिवपाल सिंह ने लालू से पूछा कि जेल में किसी तरह कि कोई दिक्कत तो नहीं है| लालू ने कहा कि उन्हें वहां अपनों से मिलने नहीं दिया जा रहा है|

‘‘साहब फैसला देने के पहले ठंडे दिमाग से विचार करियेगा.’’

जब अदालत ने इस बात की जानकारी दी कि अब से विडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से भी पेशी पर विचार किया जा रहा है तो लालू ने अनुरोध किया कि उन्हें सशरीर बुलाकर ही फैसला सुनाया जाए| फिर जज ने कहा कि आपकी पेशी कैसे करवानी है इस पर कल ही फैसला लेंगे|

लालू ने कहा,‘‘साहब फैसला देने के पहले ठंडे दिमाग से विचार करियेगा|’’ जवाब में जज ने कहा,‘‘आपके शुभचिन्तक दूर-दूर से फोन कर रहे हैं.’’ जज ने लालू से कहा कि आपके लिए कई लोगों ने सिफारिशें की हैं लेकिन मैं कानून का ही पालन करूँगा!

Source: Zee News

By: Sharma on Friday, January 5th, 2018