कश्मीर पर वित्त मंत्री का अजीब ब्यान, हाईकमान ने निकाला बर्खास्तगी का फरमान! 

हाल ही में जम्मू कश्मीर की राजनीति में एक अजीबोगरीब वाकया सामने आया है| और देश में शायद यह अपनी तरह का पहला मामला है| जम्मू कश्मीर सरकार के वित्त मंत्री को कश्मीर पर हल्का ब्यान देना काफी महंगा पड़ा है| मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने पहले तो हसीब द्राबू को हाजिर होकर जवाब देने को कहा, और फिर उन्हें बर्खास्त कर दिया|

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने पहले द्राबू से किया जवाब तलब, फिर सुना डाला बर्खास्तगी का फरमान! 

मामला दरअसल ये है कि जम्मू-कश्मीर सरकार के वित्त मंत्री से महबूबा मुफ़्ती नाराज थीं| और इस नाराजगी की वजह थी उनका पार्टी लाइन से बाहर जाकर कश्मीर पर बयानबाजी करना| लेकिन कश्मीर के बारे में ऐसा क्या कह दिया था हसीब द्राबू ने कि उनके खिलाफ ऐसी कड़ी कार्रवाई की गयी?

 

द्राबू ने दिल्ली में ब्यान देते हुए कहा था कि कश्मीर कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं है, बल्कि एक सामजिक विषय है| और इस ब्यान के बाद से ही वे पार्टी में सबकी आँख की किरकिरी बन गये थे| इस ब्यान के बाद मुख्यमंत्री महबूबा ने उन्हें बुलाकर जवाब देने को कहा था| और जब वे अपने उत्तर से उन्हें संतुष्ट नहीं कर सके तो उन्हें बर्खास्त कर दिया गया|

PDP के रसूखदार नेता हैं हसीब द्राबू, कार्रवाई को लेकर उठ रहे हैं कई सवाल! 

सब जानते हैं कि हसीब द्राबू जम्मू कश्मीर में सत्ताधारी पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के एक  नेता  और उनका इस संगठन में कद काफी ऊंचा है| इसलिए एकदम से की गयी इस कार्रवाई पर तरह तरह के सवाल उठाये जा रहे हैं| और इस पर चर्चा हो रही है कि इस सामन्य से ब्यान पर जम्मू कश्मीर की राजनीति में इतनी हलचल आखिर कैसे मच गयी!

ब्यान के बाद द्राबू से सफाई देने को कहा गया था लेकिन वे मुख्यमंत्री को संतुष्ट नहीं कर सके| इसके बाद उन्हें कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया गया और इस बारे में राजभवन को चिठी भेजी गयी  है|

Source 

By: Sharma on Tuesday, March 13th, 2018