राजौरी में जिस तरह हमारे जवान लड़े हैं, उनकी शहादत पर आपको दुःख से ज्यादा गर्व होगा!

पाकिस्तान ने सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन करने से कभी भी गुरेज नहीं किया है| भारत के समझाने पर उसने भले ही लाख बार शान्ति बनाए रखने का वादा किया हो, लेकिन फिर दूसरे ही क्षण वो अपनी औकात पर आ जाता है और फिर से युद्धविराम की तौहीन कर देता है|

और हाल ही में उसने फिर से जम्मू कश्मीर के राजौरी सेक्टर के रिहायशी इलाकों में गोलीबारी की| और इस संकट से वहां के अवाम को बचाने के लिए हमारे सैनिकों ने अपनी जान की बाज़ी खेल दी और शहादत क़ुबूल कर ली!

जवानों के सारे शरीर में थीं गोलियां और हड्डियां टूट गयी थीं, लेकिन फिर भी मैदान पर डटे रहे! 

राजौरी में पाकिस्तानी सेना की फायरिंग में हमारे जो जवान शहीद हुए, उन्होंने अद्भुत शौर्य का परिचय देते हुए अंतिम सांस तक देश की सेवा की| इन शहीदों की मेडिकल रिपोर्ट जब आर्मी हॉस्पिटल ने जारी की, तो उसमे ये बात सामने आई है|

पाकिस्तान की तरफ से हुई गोलीबारी में हमारे 4 जवान, कप्तान कुंडू, राइफल मैन राम अवतार, हवालदार शुभम सिंह और रोशन लाल शहीद हुए| इन जवानो को जब गम्भीर रूप से घायल अवस्था में हॉस्पिटल ले जाया गया, तब तक अत्याधिक खून बह जाने के कारण वे काफी बुरी हालत में थे| उनके शरीर के लगभग हर हिस्से में मोर्टार के छर्रे घुसे हुए थे और जगह जगह हड्डियां टूटी हुई थीं|

इन जवानो के कमर के नीचे का काफी हिस्सा डैमेज हो चुका था, लेकिन बावजूद इसके वो आखिरी दम तक लड़ते रहे| और डॉक्टरी सहायता मिलने तक ज्यादा खून बह जाने के कारण उन्हें बचाया नहीं जा सका|

आपको बता दें कि रविवार को राजौरी और पूंछ में पाकिस्तान की तरफ से युद्ध विराम का उल्लंघन किया गया था| उस तरफ से रात भर फायरिंग होती रही और इसमें चार भारतीय जवान घायल हो गये|

By: Sharma on Tuesday, February 6th, 2018